जस्टिन लैंगर ने ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाड़ियों को बताया 'बिगडैल बच्चे'

बॉल टेंपरिंग केस को 2 महीने बीत चुके हैं, लेकिन अभी तक इस पर क्रिकेट से जुड़े लोगों द्वारा प्रतिक्रियाएं देने का सिलसिला बंद नहीं हुआ है। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के नए कोच जस्टिन लैंगर ने बॉल टेंपरिंग केस में स्टीव स्मिथ को असफल कप्तान बताया। लैंगर का कहना है कि केपटाउन टेस्ट के दौरान ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी 'बिगडैल बच्चों' की तरह बरताव कर रहे थे और स्टीव स्मिथ स्मिथ इतने अच्छे लीडर नहीं है कि उनको संभाल सके।

लैंगर ने ब्रिटिश स्काई टीवी से बात करते हुए कहा ‘एक समय विरोधी टीमें हमें इसलिए पसंद नहीं करती थी क्योंकि हम वास्तव में बहुत अच्छी और कड़ी क्रिकेट खेलते थे। हम कुशल थे और हमने कई मैच जीते। अगर प्रतिद्वंद्वी अच्छा है तो विरोधी टीम आपको पसंद नहीं करेगी लेकिन पिछले 12 महीनों के दौरान काफी कुछ गलत हुआ और खिलाड़ियों ने बिगड़ैल बच्चों की तरह व्यवहार किया।’’

इसी के साथ उन्होंने स्टीव स्मिथ की कप्तानी के बारे में कहा ‘‘मुझे लगता है कि स्टीव स्मिथ अपनी नेतृत्वक्षमता में पर्याप्त दमदार नहीं थे। लेकिन वह क्रिकेट को दिलोजान से चाहते हैं, कड़ी मेहनत करते हैं और बहुत अच्छे इंसान हैं। इसमें कोई संदेह नहीं।’’

उल्लेख है, स्टीव स्मिथ और वॉर्नर की गैरहाजरी में जब कल ऑस्ट्रेलिया की टीम पहली बार वनडे मैच खेलने मैदान पर उतरी तो उन्हें इंग्लैंड से तीन विकेट से हार का सामना करना पड़ा।